बारकोड

مقالات انديشه اي

नहजुल बलाग़ा में इमाम अली के विचार २

नहजुल बलाग़ा वह किताब है जिसमें हज़रत अली अलैहिस्सलाम के कुछ कथनों, पत्रों और भाषणों को एकत्रित किया गया है। इस किताब को पवित्र कुरआन का भाई कहा जाता है।



अंतिम अद्यतन (रविवार, 13 अप्रैल 2014 19:28)

और पढ़ें ...

 

आयतुल्लाह जवादी आमुली

सामान्य रूप से विचारक, बुद्धिजीवी और जागरूक लोग अपनी मूल्यवान पुस्तकें और आलेख यादगार के रूप में छोड़ते हैं।



अंतिम अद्यतन (शनिवार, 12 अप्रैल 2014 17:59)

और पढ़ें ...

 

धार्मिक प्रशिक्षण से वंचित लोग कैसे अध्यात्मिकता प्राप्त करें।

अध्यात्मिक स्वास्थ्य वह चीज़ है जिसके महत्त्व को हालिया दशक में विश्ववासियों ने स्वीकार कर लिया है और इसे स्वास्थ्य का एक महत्त्वपूर्ण मापदंड बताया है।

 


अंतिम अद्यतन (गुरुवार, 10 अप्रैल 2014 09:28)

और पढ़ें ...

 

इस्लामी लोकतंत्र

ईरान की इस्लामी लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था के ढांचा

जो विश्व में धार्मिक लोकतंत्र का एक मात्र प्रतीक व उदाहरण है। पिछली कड़ी में हमने वलीए फ़क़ीह के दायित्वों और अधिकारों के बारे में बात की थी।


अंतिम अद्यतन (मंगलवार, 08 अप्रैल 2014 20:52)

और पढ़ें ...

 

पैग़म्बरे इस्लाम की झलक, इमाम ख़ुमैनी

चौदह खुरदाद वर्ष 1368 हिजरी शम्सी अर्थात चार जून वर्ष 1989 ईसवी को विश्व एक ऐसे महापुरूष से हाथ धो बैठा जिसने अपने चरित्र, व्यवहार, अदम्य साहस, समझबूझ और ईश्वर पर पूर्ण विश्वास के साथ संसार के सभी साम्राज्यवादियों विशेषकर अत्याचारी व अपराधी अमरीकी सरकार का डटकर मुक़ाबला किया और इस्लामी प्रतिरोध की पताका पूरी धरती पर फहराई।

 

अंतिम अद्यतन (मंगलवार, 08 अप्रैल 2014 20:35)

और पढ़ें ...

 
आलेख और अधिक ...
प्रपत्र कीजिये