बारकोड

عناوين اصلي

ईदे कुरबान

आज ज़िलहिज्जा महीने की १० तारीख है। आज इस्लामी जगत में बक़रीद मनाई जा रही है। बकरीद महान ईश्वर की इच्छा के समक्ष नतमस्तक होने की ईद है।

 

 

अंतिम अद्यतन (सोमवार, 06 अक्टूबर 2014 03:48)

और पढ़ें ...

 

अरफ़ा, दुआ और इबादत का दिन

दुआ इबादत की रूह है। जो इबादत दुआ के साथ होती है वह प्रेम और परिज्ञान को उपहार स्वरूप लाती है। दुआ ऐसी आत्मिक स्थिति है कि जो इंसान और उसके जन्मदाता के बीच मोहब्बत एवं लगाव पैदा करती है।

 


अंतिम अद्यतन (शनिवार, 04 अक्टूबर 2014 16:01)

और पढ़ें ...

 

हाजियों के नाम इस्लामी क्रान्ति के वरिष्ठ नेता का संदेश

بسم اللہ الرحمن الرحیم

बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम

उत्सुकता और सम्मान भरा सलाम हो आप भाग्यवानों पर जो क़ुरआनी निमंत्रण को स्वीकार करते हुए ईश्वरीय मेहमानी के लिए आगे बढ़े।


अंतिम अद्यतन (शुक्रवार, 03 अक्टूबर 2014 17:28)

और पढ़ें ...

 

हज के संबंध में विशेष कार्यक्रम-२

जैसाकि आप जानते हैं ज़िलहिज महीने की दस तारीख़ को हज के संस्कार अंजाम दिये जाते हैं। इस पवित्र उपासना के लिए विश्व के कोने-कोने से मुसलमान मक्का पहुंचते हैं।



अंतिम अद्यतन (शुक्रवार, 03 अक्टूबर 2014 17:20)

और पढ़ें ...

 

इमाम मोहम्मद बाक़िर अलैहिस्सलाम की शहादत

इस्लामी इतिहास एसी हस्तियों के अस्तिव के सुसज्जित व भरा पड़ा है जो न केवल अपने काल बल्कि समस्त कालों और पीढियों के लिए सर्वोत्तम आदर्श हैं और इन हस्तियों में सर्वोपरि पैग़म्बरे इस्लाम का पावन अस्तित्व है और उनके बाद उनके पवित्र परिजन हैं जो सत्य की खोज करने वालों के लिए प्रज्वलित दीपक की भांति हैं।

 

अंतिम अद्यतन (बुधवार, 01 अक्टूबर 2014 14:30)

और पढ़ें ...

 
आलेख और अधिक ...
प्रपत्र कीजिये